दिल की बातें, रोमांटिक शायरी, शायरी

हैप्पी करवा चौथ !

बन के सजनी मैं ही तेरी साजन रहूँँ जिन्दगी भर तेरे दिल के आँगन रहूँ अपने रब यही अब माँगती हूँ दुआ जब तलक मैं रहूं बस सुहागन रहूँ तुझसे पहले था जीवन अँधेरा घना तू मिला तो रोशनी से हुआ सामना अपने ईश्वर से तो अब यही मैं कहूँ तुझको लग जाए मेरी उमर… Continue reading हैप्पी करवा चौथ !