हम याद रखेंगे

इस इश्क में हमें क्या क्या मिला याद रखेंगे
मेरे दिल में कितना जख्म खिला याद रखेंगे
खा खा के चोट तेरे झूठ और फरेब की
किस तरह बिखरा दिल का किला याद रखेंगे
याद रखेंगे सितमगर तेरा हर इक सितम
हमने जो  किया  शिकवा गिला याद रखेंगे
हम खुद को भूल भी गए तो कोई गम नहीं
पर   बेवफा  हम तेरी  जफा़   याद   रखेंगे
तुम याद रखना प्यार में सुकून तुम्हें मिला
 हमें भी जो मिला इसमें सिला याद रखेंगे
इस इश्क में हमें क्या क्या मिला याद रखेंगे
मेरे दिल में कितना जख्म खिला याद रखेंगे